पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का 66 साल की उम्र में निधन हो गया है. उनको बीते 9 अगस्त को दिल्ली के एम्स में भर्ती करवाया गया था. उस समय उनको सांस लेने में तकलीफ हो रही थी

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता “अरुण जेटली” का 66 साल की उम्र में निधन हो गया है. उनको बीते 9 अगस्त को दिल्ली के एम्स में भर्ती करवाया गया था. उस समय उनको सांस लेने में तकलीफ हो रही थी

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का 66 साल की उम्र में निधन

अभी हाल ही में 24 अगस्त 2019 को पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता “अरुण जेटली” का निधन 66 वर्ष की उम्र में दिल्ली के एम्स में हो गया है. “अरुण जेटली एक लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे.  बीमारी के चलते ही इनको 9 अगस्त 2019 को सांस लेने में तकलीफ के चलते दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था.
आप सभी को बता दे की “अरुण जेटली” ने अपने खराब स्वास्थ्य के कारण ही 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था. जबकि पिछले साल 14 मई 2018 में उनके गुर्दे का प्रतिरोपण किया गया था और उस इनकी जगह रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाला था.
“अरुण जेटली” को 26 मई 2014 को पहली बार प्रधान मंत्री बनने पर नरेंद्र मोदी सरकार में वित्त मंत्री बनाया गया था.
भारत के वित्त मंत्री के रूप में “अरुण जेटली” के कार्यकाल के दौरान ही मोदी सरकार ने 9 नवंबर, 2016 को भ्रष्टाचार, काले धन, नकली मुद्रा और आतंकवाद पर अंकुश लगाने के इरादे से 500 और 1000  के नोटों का विमुद्रीकरण किया था.
जबकि “अरुण जेटली” को भाजपा का ‘चाणक्‍य’ भी कहा जाता है.
इनका जन्म 28 दिसम्बर  1952 को नई दिल्ली में हुआ था.